मेरी हर धड़कन भारत के लिए है...

Wednesday, 9 December 2009

नियम अवहेलना या राजनीती ?

७ दिसंबर को सीतापुर में सूर्यास्त के बाद राहुल गाँधी के हेलीकाप्टर को उतारे जाने के बाद से राजनीति अपने चरम पर है। इसकी शुरुआत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी के जोश से शुरू हुई जिसमें उन्होंने यह कह दिया कि अपनी जान को जोखिम में डालकर भी राहुल ने सीतापुर में उतर कर अपना कार्यक्रम पूरा किया था। बस यहीं से राजनीति शुरू हो गई और सीतापुर के जिलाधिकारी से लेकर किसी ज़माने में सीतापुर के जिलाधिकारी रह चुके और अब प्रदेश के मुख्य सूचना सचिव विजय शंकर पांडे तक बयान जारी करने में लगे हैं। जब मामला इस हद तक पहुँच गया तो राहुल को ख़ुद ही लखनऊ के संवाददाता सम्मलेन में यह कहना पड़ा कि उन्होंने किसी नियम का उल्लंघन नहीं किया है। बिना बात की रिपोर्टिंग से पायलट के भविष्य पर ख़राब असर पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि वे स्वयं एक प्रशिक्षित पायलट हैं और इस तरह का सुरक्षा से जुड़ा जोखिम लेने का कोई मतलब ही नहीं बनता है। उन्होंने किसी भी तरह से किसी नियम का उल्लंघन नहीं किया है, इस बात कि जानकारी पायलट या एन एस जी से भी ली जा सकती है।
वास्तव में यह राहुल की सुरक्षा से जुड़ा मामला लगता ही नहीं है इस के लिए सीतापुर को इसलिए भी चुना गया क्योंकि वहां पर उन्होंने अति पिछड़े युवाओं से संवाद किया था। बस यही एक बात जो माया सरकार को कभी से अच्छी नहीं लगती है कि आख़िर राहुल इस तरह से उनके वोट बैंक पर डाका कैसे डाल सकते हैं ? उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के बढ़ते जनाधार ने आज बहुत सारे दलों की नींद उड़कर रख दी है। राहुल जिस तरह से सीधे जनता से संवाद कर रहे हैं वह तरीका माया या मुलायम समेत भाजपा को भी नहीं अच्छा लग रहा है। ये सभी अपने वोट को बंधुआ समझते थे पर अब राज्य में कांग्रेस ने अपने प्रदर्शन में सुधार करना शुरू किया है और उसके प्रति जनता का रुझान देखकर सभी दल परेशान हैं। ऐसा नहीं है कि किसी राजनेता का हेलीकाप्टर इस तरह की परिस्थियों में नहीं उतरा हो ? क्या अँधेरा होने पर हेलीकाप्टर को लखनऊ भेजा जाता ? फिर बिना समुचित व्यवस्था के क्या वह लखनऊ तक जा सकता था ? इस सब सवालों के जवाब अभी मिलने शेष हैं फिर भी चाहे कुछ हो राहुल को भी अपना ध्यान रखना चाहिए क्योंकि देश उनसे बहुत सारी आशाएं रखता है और अन्य लोगों को भी इस तरह के मामले में इतना हल्ला नहीं मचाना चाहिए।


मेरी हर धड़कन भारत के लिए है...

No comments:

Post a Comment