मेरी हर धड़कन भारत के लिए है...

Tuesday, 1 February 2011

पाक परमाणु हथियारों पर.....

                               लगता है कि अमेरिका ने पाक की तरफ़ से पूरी तरह से आँखें मूँद रखी हैं क्योंकि जिस तरह से पाक में परमाणु हथियारों की संख्या पिछले ४ वर्षों में दोगुनी होने की ख़बरें आई हैं उससे यही लगता है कि आने वाले समय में पाक पूरी दुनिया के लिए बहुत बड़ा सरदर्द बनने वाला है ? पाक ने पिछले कुछ वर्षों में अपने प्लुटोनियम उत्पादन को बढ़ा कर अपनी क्षमता बढ़ाने के सारे उपाय किये हैं पर उसकी हर हरकत को परमाणु अप्रसार से जुड़े देश रोकने में पूरी तरह से असफल रहे हैं. पाक ने जिस तरह से ११० हथियारों की क्षमता पा ली है उससे तो यही लगता है कि वह आने वाले समय में दुनिया को तबाही के रास्ते पर ले जाना चाहता है ? आज की तारीख़ में भारत के पास १०० और चीन के पास २०० के करीब परमाणु हथियार होने का अनुमान है पर पाक जिसको केवल भारत से ही ख़तरा लगता है और उसकी छोटी सी सीमा को देखते हुए यह संख्या बहुत अधिक है.
        पाक के परमाणु संपन्न होने से देखा जाए तो वैसे कोई खतरा नहीं है जब तक ये सारी चीज़ें सरकार और सेना के कब्ज़े में हैं पर जिस तरह की अराजकता वहां पर फैली रहती है उसको देखते हुए यह कभी भी हो सकता है कि वहां की सत्ता पर आतंकियों का कब्ज़ा हो जाए और वह स्थिति पूरी दुनिया के लिए घातक होगी क्योंकि इन सिरफिरे आतंकियों के मन में क्या है यह सभी जानते हैं ? ये केवल विद्वेष फ़ैलाने के लिए इसराइल, भारत और अमेरिकी ठिकानों पर इन हथियारों और मिसाइलों के माध्यम से हमला कर सकते है ? या फिर कभी सत्ता पर अपना कब्ज़ा बनाये रखने के लिए कोई सेना का अधिकारी भी इन हथियारों का दुरूपयोग पाक की जनता को अपने पक्ष में करने के लिए कर सकता है ? जिस तरह से पाक में परमाणु हथियारों को ले जाने में सक्षम मिसाइलों का लगातार परीक्षण चल रहा है वह भी परमाणु हथियारों के साथ एक खतरनाक गठजोड़ बन सकता है ?
       फिलहाल अमेरिका ही इस पूरी स्थिति का ज़िम्मेदार है क्योंकि पाक को भारत के मुकाबले हमेशा शाह देने की उसकी नीति का अब पर्दाफाश हो चुका है और दुनिया भी यह जान चुकी है कि अमेरिका सोचता है कि वह पाक का इस्तेमाल कर रहा है पर पाक अपनी धूर्तता के साथ अमेरिका को उल्लू बना रहा है ? अब भी समय है कि अमेरिका इस स्थिति पर चेत जाए पर इस बात का सबसे बड़ा प्रभाव भारत और पाक पर ही पड़ना है क्योंकि अगर किसी भी समय पाक ने परमाणु हथियार का प्रयोग किया तो भारत उस स्थिति में उसे कड़ा जवाब देने की क्षमता रखता है. इस पूरे खेल में पाक का बहत बड़ा नुकसान होने वाला है क्योंकि पाक पर पूरे भारत से हमले किये जा सकते हैं पर पाक के पास हमला करने के लिए सीमित विकल्प ही होंगें फिर भी इस तरह की कोई भी होड़ इस पूरे क्षेत्र को तबाह करने की क्षमता रखती है ? अच्छा हो कि पाक के झांसे में फंसने के बजाय अमेरिका इस पूरे मसले को सही तरह से निपटे.   
मेरी हर धड़कन भारत के लिए है...

1 comment: